CARAVAN PARTISHODH. HINDI

719.00

युगों से रक्तपिपासु पिशाचों का एक समूह भारतीय रेगिस्तानों पर नौटंकी एवं क्रीङांगण (सर्कस) का वेष धरे भ्रमण करता आ रहा है । वे असंदेही गाँववालों को अपने आहार हेतु लुभाते हैं जिसकी चकाचौंध से अंधे होकर गाँववाले उन्हें अपने गाँव में मृत्यु का तांडव करने का निमंत्रण दे देते हैं ।

There are no reviews yet.

Be the first to review “CARAVAN PARTISHODH. HINDI”